X

Roposo app kaha ka hai | Ropose app क्यों सुरक्षित हैं

Roposo app kaha ka hai | roposo app which country – कुछ दिन पहले ही भारत और चीन के मध्य सीमा विवाद पर तथा चीन के खराब रवैया को देखते हुए भारत सरकार ने चीनी एप्स को भारत में बंद कर दिया. जिसमें प्रमुख टिक टॉक और (TikTOK) पब्जी (Pubg) एप्लीकेशन हैं. इसके साथ ही भारत के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने अपने एक भाषण में लोकल के लिए वोकल (Local for Vocal) का नारा दिया.

जिसका सीधा अर्थ है कि हमें आत्मनिर्भर बनना और स्वदेशी वस्तुओं का उपयोग करने से है. जिसके कारण हमारे देश की अर्थव्यवस्था मजबूत बन सके और हम भी विश्व के सबसे तेजी से बढ़ने वाली अर्थव्यवस्था ने अपना नाम लिखा सके.

इस आर्टिकल में हम Roposo एप्लीकेशन के बारे में जानेगे. और जानेगे की यह एप्लीकेशन टिक टोक जैसी चीनी एप्लीकेशन से  ज्यादा सुरक्षित हैं. और हमे इसका उपयोग क्यों करना चाहिए. इसके साथ ही Roposo app कहा का हैं. और किस देश का हैं. यह भी विस्तार से जानेगे.

Ropose app क्या हैं | roposo app launch date

Ropose app एक भारतीय वीडियो शेयरिंग एप्लीकेशन हैं. जहां पर आप वीडियो और फोटो शेयर कर सकते हैं. तथा टिक टोक के तरह ही शोर्ट विडियो बना सकते हैं. इस एप्लीकेशन को 2014 में रिलीज किया गया था. तथा इस एप्लीकेशन का नवीनतम संस्करण 10 जून 2020 को सामने लाया गया.

यह एप्लीकेशन एंड्राइड और एप्पल के मोबाइल दोनों पर चलता है. तथा इस एप्लीकेशन की सबसे अच्छी बात यह है कि यह 10 भारतीय भाषाओं में कार्य करती है. जिसने 25 चैनल तथा इस बेहतरीन एप्लीकेशन को 15 से 35 वर्ष के युवाओं को ध्यान में रखकर बनाया गया हैं.

अमेरिका का प्रधानमंत्री कौन है 2021 – सम्पूर्ण जानकारी

Ropose app कहा की हैं | Ropose app किस देश की हैं | roposo app which country

Ropose app एक भारतीय मोबाइल एप्लीकेशन है. क्योंकि इसे बनाने वाली कंपनी Glance InMobi Pte. Ltd एक भारतीय कंपनी हैं. हालांकि इस समय हमारे देश में Ropose app जैसी शॉर्ट वीडियो बनाने वाले अनेक एप्लीकेशन उपलब्ध है. लेकिन Ropose app इस श्रेणी में सबसे पहली एप्लीकेशन थी.

एक तरह से देखा जाए तो चीनी एप्लीकेशन टिक टोक में प्राइवेसी का हमेशा खतरा रहता है. तथा यूजर का डाटा लीक होने का डर ज्यादा रहता है. जिसके कारण भारत सरकार ने इसे प्रतिबंधित कर दिया लेकिन Ropose app में आप बिना डाटा प्राइवेसी के चिंता के उपयोग कर सकते हैं. क्योंकि उस एप्लीकेशन के जरिये आप का डाटा सिर्फ भारत में ही रहता हैं.

चीन किस देश का गुलाम था | चीन का इतिहास

Ropose app को कब बनाया गया था?

Ropose app को 2014 में बना दिया गया था. लेकिन उस समय शोर्ट विडियो इतने लोकप्रियता नहीं थे. और उस समय हमारे देश में इन्टरनेट भी महंगा था. जिसके कारन इस एप्लीकेशन को इतनी लोकप्रिय नहीं मिल सकी. बाद में जब इन्टरनेट भारत में सस्ता हुआ. तो टिक टोक जैसी बाहरी कंपनियों ने भारत के बाजार में शोर्ट विडियो के क्षेत्र में अपना दबदबा बना लिया था. और भारतीय कंपनिया पीछे रह गई.

Ropose app को किसने बनाया हैं | roposo app owner country

Ropose app को बनाने वाले तीन भारतीय व्यक्ति हैं. जिनका नाम मयंक भंगाडिया, अविनाश सक्सेना और कुशल शुंभक है. यह तीनों IIT दिल्ली के छात्र रहे हुए हैं. तथा इन्होंने Ropose app को बनाया है. और इनकी पैरेंट कंपनी का नाम Glance InMobi Pte. Ltd हैं. इस ऐप को इन लोगों ने 2014 में बनाया था और उस समय इस प्रकार की यह पहली ऐप और अकेली एप्लीकेशन शॉर्ट वीडियो बनाती थी. लेकिन उस समय हमारे देश में इंटरनेट की उपलब्धता नहीं होने के कारण यह एप्लीकेशन इतनी लोकप्रिय नहीं हो पाई.

नेपाल भारत से कब अलग हुआ | नेपाल का इतिहास

निष्कर्ष

सरकार के द्वारा चीनी एप्लीकेशन पर प्रतिबन्ध लगने के पश्चात् भारतीय लोग चीनी एप्लीकेशन की जगह भारतीय और स्वदेशी एप्लीकेशन को खोजने लगे. उसमें से हम एक बहुत ही बेहतरीन एप्लीकेशन Ropose app हैं. यह एप्लीकेशन चीनी टिक टॉक एप्लीकेशन की तरह ही कार्य करती है. लेकिन इस एप्लीकेशन में प्राइवेसी को लेकर कोई खतरा नहीं रहता है क्योंकि यह भारतीय एप्लीकेशन है. आप का डाटा भारत के बहार नही भेजा जाता हैं.

पुराणों की संख्या कितनी हैं | पुराण क्या हैं

विश्व व्यापार संगठन का मुख्यालय कहा हैं – सम्पूर्ण जानकारी

महाभारत किसने लिखा था – महाभारत के लेखक और रचियता

आपको यह आर्टिकल (Roposo app kaha ka hai | roposo app which country ) कैसा लगा हैं. यह हमे तभी पता चलेगा जब आप हमे निचे कमेंट करके बताएगे. इसे ज्यादा से ज्यादा लोगो तक पहुचाए और स्वदेशी Ropose app को अपनाए. धन्यवाद.