Advantages of CSS in hindi/ Benefits of CSS in Hindi | CSS लैंग्वेज क्या होती है?

 

आज कल वेबसाइट सिर्फ एक पेज की ही नहीं होती है. आधुनिक समय में वेबपेज में बहुत कुछ होता है. जैसे आप वेबसाइट पर विडियो देख सकते है. किसी की तस्वीर देख सकते है. या chat कर सकते है. इत्यादि. वेबसाइट पर यूजर सिर्फ पढने के अलावा भी विभिन्न तरीको से जानकारी ले सकता है. वेबसाइट को प्रभावशाली और यूजर के अनुसार बनाने के लिए HTML लैंग्वेज के साथ विभिन्न लैंग्वेज का भी उपयोग होता है. इस आर्टिकल (Advantages of CSS in hindi/ Benefits of CSS in Hindi) में हम ऐसी ही लैंग्वेज CSS लैंग्वेज के बारे में विस्तार से जानेगे.

CSS लैंग्वेज क्या होती है?

CSS का पूरा नाम Cascading Style Sheets होता है. जिस प्रकार से HTML लैंग्वेज वेबपेज की सरचना को बनाने के काम आती है. वही CSS वेबपेज और वेबसाइट के layout को बनाने में उपयोग ली जाती है. वेबपेज की सरचना में वेबपेज में तस्वीर और विडियो को डालना, हैडिंग देना, पैराग्राफ इत्यादि शामिल होते है. और वेबपेज के layout में कलर, font इत्यादि शामिल होते है.

CSS एक सिंपल डिजाईन लैंग्वेज है. जो वेबसाइट डेवलपमेंट के कार्य को आसान बनाती है. CSS लैंग्वेज के उपयोग से आप वेबपेज में टेक्स्ट के कलर, font, पैराग्राफ, पैराग्राफ के बिच में खाली जगह, बेकग्राउंड की तस्वीर, layout की सरचना, और विभिन्न उपकरण के अनुसार स्क्रीन साइज़ विकसित कर सकते है.

CSS सरल लैंग्वेज है. और इसको सीखना भी आसान है. इसको HTML के साथ प्रयोग कर के इसे और शक्तिशाली तरीके से उपयोग किया जाता है. एक प्रभावशाली वेबसाइट बनाने के लिए HTML के साथ CSS को उपयोग करना जरुरी है.

advantages of css in hindi benefits of css in hindi
CSS Language

Advantages of CSS in Hindi/ Benefits of CSS in Hindi

CSS लैंग्वेज के अत्यधिक उपयोग और लोकप्रिय होने के पीछे इसकी विशेषताए है. जो CSS लैंग्वेज को बाकि लैंग्वेज से अलग और प्रभावशाली बनाती है. इस विशेषताओ को निचे निम्न बिन्दुओ में विस्तार से समझाया गया है.

समय की बचत

आप CSS लैंग्वेज के कोड एक बार लिख कर विभिन्न जगह और वेबपेज में HTML के साथ उपयोग कर सकते है. इस कारन प्रत्येक वेबपेज के लिए अगल से CSS कोड लिखने की जरूरत नहीं होती है. आप किसी एक पेज में CSS कोड लिख कर उसे अन्य HTML वेबपेज को apply कर सकते है.

Maintain करने में आसानी

CSS कोड में लिखे वेबसाइट को maintain करना बहुत आसान है. एक बार वेबसाइट बनाने के बाद उसे समय समय पर जरूरत के हिसाब से मेन्टेन करना जरुरी होता है. जिसमे वेबसाइट बनाने के लिए लगा समय के बराबर समय लगता है. लेकिन CSS लैंग्वेज में एक बार style sheet निर्धारित करने के बाद आपको सिर्फ style sheet में ही अपडेट और बदलाव करना होता है. तथा ये बदलाव और अपडेट पुरे वेबसाइट में apply हो जाता है.

More attribute

CSS में HTML के मुकाबले काफी सारे attribute मौजूद है. जिसका प्रयोग करके आप अपने वेबसाइट और वेबपेज को प्रभावशाली बना सकते है. जो की सिर्फ HTML लैंग्वेज से संभव नहीं है.

Multiple Device Compatibility

CSS लैंग्वेज में style sheet वेबपेज के कंटेंट और वस्तुओ को विभिन्न उपकरण जैसे डेस्कटॉप, टेबलेट, मोबाइल इत्यादि के लिए अलग से स्क्रीन साइज़ (screen size) और optimize करने की सुविधा देती है. जिससे आप वेबपेज को विभिन्न उपकरणों में सुविधा और जरूरत के हिसाब से विकसित कर सकते है.

Global web standard

अब HTML वेबपेज को CSS लैंग्वेज के साथ उपयोग करने के लिए और एक मानक बनाने के लिए www (world wide web) से अपील की जा रही है. भविष्य के मानक और ब्राउज़र की जरुरतो के लिए HTML और CSS के साथ वेबसाइट और वेबपेज बनाने में उपयोग करना एक अच्छा विचार है.

आपने क्या सिखा

इस आर्टिकल (Advantages of CSS in hindi/ Benefits of CSS in Hindi) को लिखने का हमारा उद्देश्य आपको CSS लैंग्वेज के बारे में जानकरी देना है. इस आर्टिकल में हमने CSS लैंग्वेज और इसकी विशेषताओ के बारे में विस्तार से बताया है. CSS लैंग्वेज को HTML के साथ उपयोग करके वेबपेज को और अधिक प्रभावशाली और यूजर के अनुसार interactive बनाया जाता है. CSS लैंग्वेज में आप अगर एक बार style sheet बना लेते है. तो उसे कही भी apply कर के अपने समय की बचत कर सकते है.

Leave a Comment