bharat ka sabse lamba rashtriya rajmarg | राष्ट्रिय राजमार्ग 44 की जानकारी  

bharat ka sabse lamba rashtriya rajmarg | भारत का सबसे लम्बा राष्ट्रिय राजमार्ग | भारत का सबसे छोटा राजमार्ग | राष्ट्रिय राजमार्ग 44 की जानकारी –  राष्ट्रिय राजमार्ग भारत की कुल सड़को का सिर्फ 1.8 प्रतिशत भाग है. लेकिन यह राजमार्ग भारत के यातायात का 40 प्रतिशत भाग के वजन को ग्रहण करते है. इसलिए राजमार्ग हमारे देश की अर्थव्यवस्था के लिए बहुत महत्वपूर्ण है. राजमार्ग की सहायता से ही देश के अन्दर भारी सामानो और खाद्यय प्रदार्थो को एक जगह से दूसरी जगह भेजा जाता है.

हमारे देश में इन राजमार्गो का निर्माण राष्ट्रिय राजमार्ग प्राधिकरण के अंतगर्त होता है. यह प्राधिकरण राजमार्गो के देखरेख के लिए भी जिम्मेदार होती है. इसकी शुरुआत पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी ने की थी. तथा यह प्राधिकरण सडक और राजमार्ग मंत्रालय के अधीन आता है. अटल जी के नेतृत्व में शुरू की गई राष्ट्रिय राजमार्ग विकास परियोजना (NHDP) हमारे देश की आजतक की सबसे बड़ी राजमार्ग परियोजना है.

लेकिन आपको पता है की भारत का सबसे लम्बा और छोटा राजमार्ग का क्या नाम है. तथा इनकी लम्बाई कितनी है. तो इस आर्टिकल में हम जानेगे की भारत का सबसे लम्बा और छोटा राजमार्ग कौनसा है. इसके साथ ही इस आर्टिकल में हम विश्व का सबसे लम्बे राजमार्ग की भी जानकारी प्राप्त करेगे.

bharat-ka-sabse-lamba-rashtriya-rajmarg-chota-kul-kitne-rajmarg-1

भारत का सबसे लम्बा राष्ट्रिय राजमार्ग कौनसा है | (bharat ka sabse lamba rashtriya rajmarg

भारत का सबसे लम्बा राष्ट्रिय राजमार्ग का नाम राजमार्ग 44 (NH44) है. यह सिर्फ एक राजमार्ग नहीं होकर राजमार्गो का समूह है.

भारत का सबसे लम्बा राष्ट्रिय राजमार्ग 44 कैसा है | राष्ट्रिय राजमार्ग 44 की जानकारी

भारत का सबसे लम्बा राष्ट्रिय राजमार्ग का नाम राष्ट्रिय राजमार्ग 44 (NH44) है. यह राजमार्ग उत्तर में श्रीनगर से शुरू होता है. तथा दक्षिण में कन्याकुमारी तक जाता है. यह राजमार्ग देश के विभिन्न राज्यों से निकलता है. जिसमे दिल्ली, हरियाणा, पंजाब, जम्मू-कश्मीर, उत्तर प्रदेश, राजस्थान, मध्य प्रदेश, महारष्ट्र, तेलगाना, आंध्र प्रदेश, कर्नाटक और तमिलनाडु शामिल है.

bharat-ka-sabse-lamba-rashtriya-rajmarg-chota-kul-kitne-rajmarg-2

इस राष्ट्रिय राजमार्ग की लम्बाई कुल 3,745 किलोमीटर है. यह देश के अनेक महत्वपूर्ण शहरो से भी होकर निकलता है. जिसमे श्रीनगर, जम्मू, पठानकोट, जलंधर, लुधियाना, अम्बाला, आगरा, ग्वालियर, झाँसी, नागपुर, हैदराबाद, बैंगलोर, सेलम, धर्मपुरी, करुर, मदुरई, तिरुनेलवेली और कन्याकुमारी शरह शामिल है.

तम्बाकू पर किस शासक ने प्रतिबन्ध लगाया था | तंबाकू का सेवन सर्वप्रथम किसने किया

भारत के इस सबसे लम्बे राजमार्ग के अंदर अनेक राजमार्ग शामिल है. इस राजमार्ग के अन्दर NH 1A, NH 1, NH 3, NH 75, NH 26 और NH 7 शामिल है.

हमारे देश की सबसे लम्बी सुरंग चेनानी नाशरी  भी राष्ट्रिय राजमार्ग 44 में स्थित है. इसके साथ ही जवाहर टनल, काजीगुंड बनिहाल सुरंग आदि भी इसी राष्ट्रिय राजमार्ग पर स्थित है.

माँ काली की घर में फोटो क्यों नहीं रखनी चाहिए | माँ काली को बुलाने का मंत्र

राष्ट्रिय राजमार्ग 44 की राज्य के अनुसार लम्बाई

अगर राष्ट्रिय राजमार्ग 44 की लम्बाई राज्य अनुसार देखे तो यह राजमार्ग निम्न अनुसार विभिन्न राज्यों से होकर गुजरता है:

राज्यलम्बाई (किलोमीटर )
पंजाब254
हरियाणा184
उत्तर प्रदेश128
मध्य प्रदेश504
महाराष्ट्र232
तेलगाना504
आंध्र प्रदेश250
कर्नाटक125
तमिलनाडु627

भारत का सबसे छोटा राजमार्ग कौनसा है?

भारत का सबसे छोटा राजमार्ग का नाम 47A है. जिसे NH 47A भी कहा जाता है. इस राजमार्ग की लम्बाई मात्र 6 किलोमीटर है. तथा यह एरनाकुलम को कोची बंदरगाह से जोड़ता है.

चेरापूंजी कहा पर स्थित है | भारत में सबसे ज्यादा बारिश कहा होती है

भारत में वर्तमान में कुल कितने राजमार्ग है?

इस समय भारत में 200 से अधिक राजमार्ग है. जिनकी कुल लम्बाई 1,31,899 किलोमीटर है.

पुरे विश्व का सबसे लम्बा राजमार्ग कौनसा है?

पुरे विश्व का सबसे लम्बा राजमार्ग का नाम पैन अमेरिकन  है. यह राजमार्ग उत्तरी अमेरिका को दक्षिणी अमेरिका से जोड़ता है. जिसकी लम्बाई 30 हजार मील है.

विश्व का सबसे बड़ा जीव कौनसा है | हाथी से 40 गुना वजनी जीव

निष्कर्ष

इस आर्टिकल (bharat ka sabse lamba rashtriya rajmarg | भारत का सबसे लम्बा राष्ट्रिय राजमार्ग | भारत का सबसे छोटा राजमार्ग | राष्ट्रिय राजमार्ग 44 की जानकारी ) को लिखने का हमारा उद्देश्य आपको राष्ट्रिय राजमार्गो की जानकारी देना है. राजमार्ग हमारी अर्थव्यवस्था का महत्वपूर्ण भाग है. भारत का सबसे लम्बा राष्ट्रिय राजमार्ग का नाम राजमार्ग 44 (NH44) है. जिसकी लम्बाई कुल 3,745 किलोमीटर है. और सबसे छोटे राजमार्ग का नाम 47A है (NH47A). यह मात्र 6 किलोमीटर लम्बा है.

काला सोना किसे कहते हैं  – सम्पूर्ण जानकारी

मेंढक के हृदय में कितने कक्ष होते हैं | मेंढक क्या खाता है

भारत का सबसे बड़ा बंदरगाह कौन सा हैं | बंदरगाह किसे कहते हैं

आल इंडिया रेडियो की स्थापना कब हुई थी – विविध भारती की शुरुआत

आपको यह आर्टिकल कैसा लगा हैं. यह हमे तभी पता चलेगा जब आप हमे निचे कमेंट करके बताएगे. यह आर्टिकल विभिन्न प्रतियोगिता परीक्षाओ की दृष्टी से भी महत्वपूर्ण हैं. इसलिए इस आर्टिकल को उन लोगो और दोस्तों तक पहुचाए जो प्रतियोगिता परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं. क्योंकि ज्ञान बाटने से हमेशा बढ़ता हैं. धन्यवाद.

Leave a Comment

x