Input devices in hindi? (कंप्यूटर इनपुट उपकरण क्या है)

कंप्यूटर एक आवश्यक मशीन है. तथा हम हमारे दैनिक कार्य के लिए कंप्यूटर का उपयोग जरुर करते है. लेकिन हमे ये पता है की कंप्यूटर में कोन से इनपुट उपकरण लगते है. इस आर्टिकल कंप्यूटर इनपुट उपकरण क्या है? (Input devices in hindi)में हम कंप्यूटर के सबसे महत्वपूर्ण भाग कंप्यूटर इनपुट उपकरण के बारे में विस्तार से वर्णन कर रहे. तथा हम ये भी जानेंगे की इनपुट उपकरण कैसे कार्य करते है. इसके साथ भी हम विभिन्न इनपुट उपकरण पर प्रकाश डालेंगे. और पढेगे की ये क्या काम आते है. और ये कैसे कार्य करते है.

कंप्यूटर इनपुट उपकरण क्या है? (Input devices definition in hindi)

इनपुट उपकरण कंप्यूटर हार्डवेयर के भाग है. जो कंप्यूटर को निर्देश देने के काम लिए जाते है. यूज़र कंप्यूटर को इनपुट उपकरण के द्वारा निर्देश देता है. और उसे समझाता है. कि उसको क्या आउटपुट चाहिए. कंप्यूटर का प्रोसेसर इस इनपुट डाटा को प्रोसेस करता है. और यूजर को आउटपुट मॉनिटर या अन्य आउटपुट उपकरण में दिखाता है. इनपुट उपकरण कंप्यूटर का महत्वपूर्ण भाग है. तथा इसके बिना कंप्यूटर को चलाना असंभव है. प्रत्येक कंप्यूटर में की-बोर्ड और माउस सामान्य इनपुट उपकरण है.

इनपुट उपकरण के प्रकार (Types of input devices in hindi)

कंप्यूटर में विभिन्न कार्य के लिए अनेक इनपुट उपकरण का उपयोग किया जाता है. जिसमे से कुछ लोकप्रिय इनपुट उपकरण इस प्रकार से है.

की-बोर्ड (keyboard in hindi)

की-बोर्ड सामान्य रूप से सभी कंप्यूटर के साथ लगा होता है. और ये एक लोकप्रिय इनपुट उपकरण है. की-बोर्ड की संरचना टाइपराइटर के जैसे होती है. टाइप राइटर की तरह ही इसमें भी अक्षर, संख्या और चिन्ह के लिए बटन होते है. यूजर कीबोर्ड में उपस्थित बटन को दबा कर कंप्यूटर को इनपुट देता है. जिसे कंप्यूटर का प्रोसेसर प्रोसेस करता है. और हमे आउटपुट मॉनिटर में दीखता है.   कीबोर्ड में अनेक बटन होते है. तथा इन बटन को उनके कार्य के अनुसार विभिन्न समूह में बाटा गया है. जो इस प्रकार से है.

टाइपिंग बटन (Typing key)

ये बटन कंप्यूटर में टाइप करने के लिए महत्वपूर्ण है. इसमें टाइप राइटर के अनुसार ही प्रत्येक अक्षर, संख्या और विशेष चिन्ह के लिए एक बटन होता है.

फंक्शन बटन (functions key)

फंक्शन बटन ऊपर के बाए से दाए तक पूरी 12 बटन होते है. तथा प्रत्येक बटन का एक विशेष कार्य होता है. इन 12 बटन पर F1 से लेकर F12 तक लेबल लगे होते है. फंक्शन बटन का काम अलग अलग सॉफ्टवेयर में अलग होता है. ये बटन सॉफ्टवेयर में कार्य करने के लिए शॉर्टकट बटन के रूप में भी इस्तेमाल होते है.

कंट्रोल बटन (Control key)

कंट्रोल बटन में shift, Ctrl. window, Alt जैसे बटन आते है. जिसका उपयोग कंप्यूटर मे अधिक मात्रा में होता है. जिसको एकल या किसी दूसरे बटन के साथ समूह में उपयोग में ला सकते है.

नेविगेशन बटन (Navigation key)

इस प्रकार के बटनो को किसी दस्तावेज और वेबपेज को ऊपर, निचे तथा दाए से बाए करने के लिए उपयोग में लिया जाता है. इसमें home, End, Page Up, Page Down, Delete और insert बटन आते है.

नुमेरिक बटन (Numeric Button)

ये बटन और बटनों का समूह अंकगणित के सम्बन्धित कार्य के लिए उपयोग किया जाता है. इन बटनों का समूह एक अलग ही होता है. जो कीबोर्ड के दाए में उपस्थित होता है. ये किसी कैलकुलेटर की तरह दिखाई देते है.

माउस (Mouse)

माउस भी की-बोर्ड की तरह कंप्यूटर का एक महत्वपूर्ण भाग है. ये एक छोटा और गोल आकार का उपकरण होता है. जो चूहे की तरह दिखता है. इसी कारन इसका नाम माउस रखा गया है. माउस के द्वारा आप मॉनिटर की स्क्रीन पर कर्सर को गति दे सकते है. माउस को हाथो से किसी समतल प्रष्ठ पर चला कर इस्तेमाल किया जाता है. माउस का उपयोग आपके कंप्यूटर स्क्रीन पर किसी फाइल, दस्तावेज, तस्वीर को सेलेक्ट करने के लिए किया जाता है माउस के प्रकार माउस को विभिन्न आकार और तकनीक का उपयोग किया जाता है. जिससे किसी विशेष कार्य के लिए माउस को प्रभावी रूप से उपयोग किया जाना संभव हो सके. इसी आधार पर माउस को विभिन्न भागों में बाटा गया है. जो इस प्रकार है.

मैकेनिकल माउस (mechanical mouse)

इस प्रकार के माउस को बॉल माउस भी कहा जाता है. इसमें एक रबर की बॉल होती है. तथा सेंसर लगा होता है. जब भी रबर की बॉल को किसी समतल प्रष्ठ पर घुमाया जाता है. तो ये सेंसर उस बॉल की दिशा को इनपुट लेकर कर कंप्यूटर को देता है. जिससे कंप्यूटर के स्क्रीन में कर्सर भी उसी दिशा में साथ घूमता है. 1980 के बाद से इस प्रकार के माउस का उपयोग ज्यादा बढ़ता गया.

ऑप्टिकल माउस (optical mouse)

ऑप्टिकल माउस को वायर के द्वारा कंप्यूटर से जोड़ा जाता है. तथा ये वायरलेस भी हो सकते है. इन माउस में रबर बॉल की जगह पर LED या लेज़र होता है. ये लगभग सारे प्रष्ठ पर कार्य करता है. इसमें एक छोटा सा कैमरा लगा रहता है. ये एक सेकंड में 1500 से भी ज्यादा प्रष्ठ के फोटो लेता है. तथा इन फोटो एक CMOS (complementary metal-oxide-semiconductor) सेंसर के द्वारा डिजिटल सिग्नल प्रोसेसर (Digital signal processor (DSP)) को परखने के लिए भेजा जाती है. जैसे ही माउस को गति दी जाती है. वैसे ही फोटो में बदलाव आता रहा है. जिसे डिजिटल सिग्नल प्रोसेसर के द्वारा अध्ययन किया जाता है. उसी प्रकार से cursor के स्थिति में भी बदलाव आता रहता है. 19 अप्रैल 1999 में माइक्रोसॉफ्ट कंपनी के द्वारा सर्वपथम ऑप्टिकल माउस परिचय कराया गया था. 

जॉयस्टिक (Joystick)

Joystick एक कंप्यूटर इनपुट उपकरण है. जिसे कंप्यूटर के साथ मशीन को भी नियंत्रित करने के लिए उपयोग में लिया जाता है. ये सारे दिशाओ में कार्य करता है. लेकिन माउस और जॉयस्टिक में एक असमानता ये होती है. की अगर जॉयस्टिक को किसी दिशा में छोड़ दिया जाता है. तो ये उस दिशा में लगातार काम करते रहता है. लेकिन माउस के cursor को कही छोड़ दिया जाता है. तो वो वही रुके जाता है. जॉयस्टिक को किसी दिशा से रोकने के लिए जॉयस्टिक को वापस से उसी स्थिति में लाना पड़ता है. सामान्य किसी भी जॉयस्टिक में दो बटन होते है. जिन्हें ट्रिगर कहा जाता है. जॉयस्टिक वायर तथा वायरलेस भी हो सकती है.

Scanner (स्कैनर)

स्कैन एक हार्डवेयर उपकरण है. जो किसी तस्वीर या दस्तावेज को स्कैन करने के लिए उपयोग में लिया जाता है. स्कैनर के द्वारा प्राप्त परिणाम को आप कंप्यूटर के मॉनिटर में देख सकते है. तथा परिणाम ये सॉफ्ट कॉपी में कंप्यूटर में उपलब्ध होता है. ये ऑप्टिकल करैक्टर रिकग्निशन (optical character recognition) तकनीक का उपयोग वस्तुओ को स्कैन करने के लिए करता है.

lightpen (लाइटपैन)

लाइटपैन का आकार पैन की तरह होता है. तथा इसमें लाइट सेंसिटिव डिटेक्टर तकनीक का उपयोग किया जाता है. इसकी सहायता से आप कंप्यूटर की स्क्रीन पर किसी वस्तु को सेलेक्ट कर सकते है. इस उपकरण का नौक सवेंदशील होता है. जिससे इसे स्क्रीन पर दबाने पर ये कंप्यूटर के प्रोसेसर को निर्देश भेजता है. जिसे प्रोसेसर के द्वारा प्रोसेस करने के बाद मॉनिटर में दिखाया जाता है. लाइटपैन LCD मॉनिटर पर उपयोग करने के लिए कारगर नहीं है. इसी कारन इसका उपयोग बड़ी तादाद में नहीं होता है.

Digitizer

ये एक कंप्यूटर इनपुट उपकरण है. तथा इसके दो भाग समतल प्रष्ठ और पेन (stylus) होते है. यूजर पेन की सहायता से समतल प्रष्ठ पर लिखता या तस्वीर बनाता है. कंप्यूटर इस तस्वीर या लिखावट को सॉफ्टकॉपी और कंप्यूटर फॉर्मेट में परिवर्तित कर देता है. तथा इसे कंप्यूटर की स्क्रीन पर दिखाता है. यूजर इसको कंप्यूटर में सुरक्षित भी कर सकता है. इसका उपयोग किसी वस्तु का CAD मॉडल बनाने के लिए किया जाता है. ये हाथ से बनी हुई चित्र को कंप्यूटर के फॉर्मेट में बदलता है.

माइक्रोफ़ोन (microphone)

माइक्रोफोन आवाज़ के कंपन को कंप्यूटर के सिग्नल में बदलता है. इसकी सहायता से आप गाने रिकॉर्ड कर सकते हो. माइक्रोफोन का उपयोग मोबाइल और फ़ोन में भी होता है. तथा इनकी सहायता से ऑनलाइन मीटिंग करना संभव है.

डिजिटल कैमरा (Digital camera)

डिजिटल कैमरा के द्वारा तस्वीर और वीडियो ले सकते है. और उसे आप अपने कंप्यूटर में सुरक्षित भी कर सकते है. इसमें फोटोसेंसर लगा होता है. जो कैमरे के लेंस की तरफ आ रही रोशनी को सिग्नल में परिवर्तित करती है. जिससे तस्वीर और वीडियो बनती है.

मैग्नेटिक इंक करैक्टर रिकग्निशन

(magnetic ink character recognition (MICR)

ये उपकरण बैंक में चेक पर लिखी जानकारी को पढने के लिए उपयोग में लिया जाता है. जहाँ पर सुरक्षा एक आवश्यक अंग होता है. ये उपकरण मैग्नेटिक इंक से लिखे गए सुचना को पढता है और उसे कंप्यूटर को भेजता है. कंप्यूटर प्राप्त सुचना को प्रोसेस करता है. और उसे अक्षर और नंबर में परिवर्तित कर देता है. इसे MICR भी कहते है.

ऑप्टिकल करैक्टर रीडर ((Opticle character reader) OCR)

ये हाथों से लिखे गए दस्तावेजो को कंप्यूटर के फॉर्मेट में बदलने के लिए काम आता है. ये कागज पर लिखे लिपि और चित्र को डिजिटल सिग्नल में परिवर्तित कर देता है. इसका उपयोग भौतिक रूप से उपलब्ध किताबो को कंप्यूटर फॉर्मेट और ऑनलाइन उपलब्ध कराने के लिए किया जाता है. इसे OCR भी कहते है.

बार कोड रीडर (Bar code reader)

बार कार्ड रीडर का उपयोग बार कोड में स्थित जानकारी को डिजिटल सिग्नल में बदलने के लिए किया जाता है. बार कोड हल्की और गहरी लाइन का समूह होता है. जिसे वस्तु पर उनकी संख्या और मूल्य की जानकारी के लिए लगाया जाता है. ये उपकरण मौजूद जानकारी को पढता है. और उसे नंबर और अक्षर में परिवर्तित कर देता है. जिसे बाद में कंप्यूटर के द्वारा वस्तु की पहचान के लिए उपयोग किया जाता है.

मेरे कुछ शब्द

इस आर्टिकल कंप्यूटर इनपुट उपकरण क्या है? (input devices in hindi) को लिखने का हमारा उद्देश्य आपको कंप्यूटर के महत्वपूर्ण भाग इनपुट उपकरण के बारे में विस्तार से जानकारी देना है. जिससे अगर आप विधार्थी है. और कंप्यूटर विषय की परीक्षा के लिए तैयारी कर रहे है. तो ये आर्टिकल आपको आपकी परीक्षा में भी मदद करता है. वही आप कंप्यूटर के लिए नए है. तो ये आपके ज्ञान को बढाता है.

हमारी पूरी कोशिश रहती है कि हम आप तक संपूर्ण जानकारी बिल्कुल आसान भाषा में ले के आए. जिससे आपकी पढने में रूचि बनी रहे. मैं उम्मीद करता हुं आपको ये आर्टिकल कंप्यूटर इनपुट उपकरण क्या है? (input devices in hindi)  पढने में मज़ा आया होगा.

अगर आपको ये कंप्यूटर इनपुट उपकरण क्या है? (input devices in hindi) आर्टिकल अच्छा लगा है. तो इसे अपने उन सब दोस्तों के पास पहुँचाए जो Competition Exam की तैयारी कर रहे है. नीचे Comment लिख कर बताए. आपको किस Topic पर आसान  भाषा में जानकारी चाहिए. कृपया इसको अपने दोस्तों के साथ Whatapp, Facebook या link share करे.

Leave a Comment