दक्षिण भारत की गंगा किस नदी को कहा जाता है | दक्षिण की गंगा और दक्षिण भारत की गंगा

dakshin bharat ki ganga kis nadi ko kha jata hai  | dakshin bharat ki ganga kise kahate hain | दक्षिण भारत की गंगा किस नदी को कहा जाता है | दक्षिण भारत की गंगा किसे कहते है – नदियाँ हमारे जीवन रेखा है. प्राचीन काल में लोग नदियों के आस पास ही रहते थे. क्योंकि नदियों से खेती और जीवन आपूर्ति का जल प्राप्त हो जाता था. आज भी नदिया पानी का मुख्य स्त्रोत है. इस आर्टिकल में हम जानेगे की दक्षिण भारत की गंगा किस नदी को कहा जाता है. तथा इस नदी को दक्षिणी भारत की नदी क्यों कहा जाता है.

dakshin-bharat-ki-ganga-kis-nadi-ko-kha-jata-hai-kahate-godawari-jankri-3

दक्षिण भारत की गंगा किस नदी को कहा जाता है | दक्षिण भारत की गंगा किसे कहते है | dakshin bharat ki ganga kis nadi ko kha jata hai

भारत की सबसे बड़ी और पवित्र नदी गंगा नदी है. इसके बाद दूसरी सबसे बड़ी नदी कावेरी और गोदावरी है. दक्षिण भारत की गंगा कावेरी नदी को कहा जाता है. एवं दक्षिण गंगा गोदावरी को कहा जाता है.

चेरापूंजी कहा पर स्थित है | भारत में सबसे ज्यादा बारिश कहा होती है

गोदावरी को दक्षिण की गंगा क्यों कहते हैं | दक्षिण की गंगा और दक्षिण भारत की गंगा

दक्षिण भारत की प्रमुख नदी में गोदावरी नदी को शामिल किया जाता है. प्रायद्वीपीय नदियों में सबसे बड़ी नदी गोदावरी नदी है. गोदावरी नदी को दक्षिण की गंगा के नाम से जाना जाता है. क्योंकि गोदावरी नदी भारत की दूसरी सबसे बड़ी नदी है. और पहले स्थान पर गंगा नदी को रखा गया है. इसलिए गोदावरी नदी को दक्षिण की गंगा कहा जाता है.

पिली क्रांति क्या है | पिली क्रांति के जनक कौन थे

गोदावरी नदी की जानकारी

गोदावरी नदी का नाम तेलुगु भाषा में एक शब्द ‘गोद’ से रखा गया है. जिसका मतलब होता है मर्यादा. इस शब्द से गोदवारी नदी का नामकरण हुआ है. गोदवारी नदी को गौतमी भी कहा जाता है. क्युकी इसका संबंध महर्षि गौतम से जुड़ा हुआ है. इसके पीछे एक छोटी सी कहानी है.

जब महर्षि गौतम एक बार तपस्या कर रहे थे. तब उनकी तपस्या से प्रसन्न होकर रुद्र प्रकट हुए. एवं उन्होंने एक बल के प्रभाव से गंगा नदी को प्रवाहित कर दिया और प्रवाह होने पर गंगा का जल एक मृत गाय के शरीर को स्पर्श हुआ. इस स्पर्श से मृत गाय जीवित हो गई. इसी कारण इस नदी का नाम गोदवारी पड़ा. और उसे गौतमी नाम से भी जाना जाने लगा.

मिट्टी कितने प्रकार की होती हैं | Mitti kitne prakar ki hoti hai

गोदावरी नदी भारत दूसरी सबसे बड़ी नदी है. गंगा नदी के बाद भारत की सबसे बड़ी नदी में गोदावरी नदी का नाम आता है. पश्चिम घाट के त्रयम्बक पहाड़ी से गोदावरी नदी की उत्पति हुई है. गोदावरी नदी महाराष्ट्र में आए नाशिक जिले से 1067 मीटर की ऊंचाई से होकर निकलती है और राजहमुन्ध्री शहर के पास बंगाल की खाड़ी में जाकर मिलती है.

dakshin-bharat-ki-ganga-kis-nadi-ko-kha-jata-hai-kahate-godawari-jankri-1

गोदावरी नदी की लम्बाई 1465 किलोमीटर की है. और इस नदी का जो पाट हैं. वह बहुत बड़ा है. इन्द्रावती, प्राणहिता और मंजीरा इसकी प्रमुख उपनदिया है. गोदावरी नदी के दक्षिण और पूर्व दिशा में पूर्वी घाट एवं पश्चिम दिशा में पश्चिमी घाट है. बात की जाए गोदावरी नदी की उत्तर दिशा की तो इस नदी की उत्तर दिशा में सतमाला पहाड़, महादेव पहाड़ एवं अंजता शृखला स्थित है.

नाशिक शहर के गोदावरी नदी के तट पर कुंभ मेले का आयोजन किया जाता है. जो हमारे देश का सबसे बड़ा सांस्कृतिक पहचान है. इस मेले का आयोजन प्रयाग में गंगा और हरिद्वार में गंगा के तट पर भी होता है.

गोदावरी नदी में पाए जाने वाले खनिज

गोदावरी नदी के मध्य से एम्फिबोल, ग्रेनाईट पत्थर जैसे खनिज पाए जाते है. गोदावरी नदी के ऊपरी भाग से एपिटोड, मेग्रेटाइट, बायोटाइट, क्लोराइट जैसे आदि खनिज पाए जाते है.

वन महोत्सव कब मनाया जाता हैं – वन महोत्सव क्यों मनाया जाता हैं

गोदावरी नदी की परियोजनाए

पोलावरम सिंचाई परियोजना, कलेश्वरम,  इन्चम्पल्ली, श्री राम सागर परियोजना यह सब गोदावरी नदी की मुख्य परियोजनाए है. पोलावरम परियोजना आंध्रप्रदेश के पोलावरम गाव पर स्थित है. यह परियोजना एक बार पूर्ण होने के बाद जल विद्युत उत्पन्न करेगी एवं सिंचाई संबंधी लाभ प्रदान करेगी.

इस परियोजना से मत्स्य पालन उधोग में वृद्दि होगी एवं शहरीकरण होगा. पोलावरम परियोजना को राष्ट्रिय परियोजना का दर्जा दिया गया है.

इन्चम्पल्ली परियोजना गोदावरी नदी एवं इन्द्रावती के संगम के पास आंधप्रदेश में स्थित है. यह परियोजना तेलगाना, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र और आंधप्रदेश राज्यों की पर परियोजनाए है.

श्री राम परियोजना जिला पोचमपाद राज्य तेलंगाना में गोदवारी नदी स्थित है.

काला सोना किसे कहते हैं  – सम्पूर्ण जानकारी

गोदावरी नदी कितने राज्यों से होकर बहती है

गोदावरी नदी भारत के पांच राज्यों से होकर बहती है. इन पांच मुख्य राज्य का नाम महाराष्ट्र, ओडिशा, छतीसगढ़, तेलंगाना, और आंधप्रदेश है. और कुछ राज्य जैसे की कर्नाटक, मध्यप्रदेश और पुदुचेरी के कुछ छोटे से हिस्से से बहती हुई बंगाल की खाड़ी में जाकर गिरती है.

dakshin-bharat-ki-ganga-kis-nadi-ko-kha-jata-hai-kahate-godawari-jankri-2

गोदावरी नदी पर  कौनसे बाँध बने हुए है

गोदावरी पर श्री राम सागर बाँध, जायकवाडी बाँध, गोदवारी बाँध आदि बाँध बने है.

गोदावरी नदी का उद्गम स्थल कहां है

गोदवारी नदी का उद्गम स्थान महाराष्ट्र के जिला नाशिक के त्र्यम्बकेश्वर है.

गोदावरी नदी की सात शाखाए है. जो कुछ इस प्रकार है

गौतमी, वसिष्ठा, कौशिकी, आत्रेयी, वृध्गौतमी, तुल्या, भारध्वाजी. जिनका वर्णन पुराणों में मिलता है.

भारत का सबसे बड़ा बंदरगाह कौन सा हैं | बंदरगाह किसे कहते हैं

निष्कर्ष

इस आर्टिकल (दक्षिण भारत की गंगा किस नदी को कहा जाता है| दक्षिण भारत की गंगा किसे कहते है ) को लिखने का हमारा उद्देश्य आपको दक्षिणी भारत की गंगा नदी कहलाने वाली गोदावरी नदी के बारे विस्तार से जानकारी देना है. प्रायद्वीपीय नदियों में सबसे बड़ी नदी गोदावरी नदी है. गोदावरी नदी को दक्षिण की गंगा के नाम से जाना जाता है. क्योंकि गोदावरी नदी भारत की दूसरी सबसे बड़ी नदी है.

पारस पत्थर क्या हैं | पारस पत्थर की पहचान क्या है

संथाल विद्रोह का नेता कौन था – संथाल विद्रोह की जानकारी

महानगर क्या हैं | महानगर की संवैधानिक परिभाषा क्या हैं

आपको यह आर्टिकल कैसा लगा हैं. यह हमे तभी पता चलेगा जब आप हमे निचे कमेंट करके बताएगे. यह आर्टिकल विभिन्न प्रतियोगिता परीक्षाओ की दृष्टी से भी महत्वपूर्ण हैं. इसलिए इस आर्टिकल को उन लोगो और दोस्तों तक पहुचाए जो प्रतियोगिता परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं. क्योंकि ज्ञान बाटने से हमेशा बढ़ता हैं. धन्यवाद.

3 thoughts on “दक्षिण भारत की गंगा किस नदी को कहा जाता है | दक्षिण की गंगा और दक्षिण भारत की गंगा”

Leave a Comment

x