सयुंक्त व्यंजन किसे कहते हैं – सयुंक्त अक्षर किसे कहते हैं

सयुंक्त व्यंजन किसे कहते हैं – sanyukt vyanjan kise kahate hain – सयुंक्त अक्षर किसे कहते हैं – सयुंक्त व्यंजन के उदाहरन – प्रत्येक भाषा में उसके व्याकरण का बहुत महत्वपूर्ण होता हैं. ऐसा हिंदी भाषा में भी हैं. हिंदी व्याकरण में हिंदी भाषा को शुध्द रूप से लिखने और बोलने के नियम विधमान हैं. जिसका उपयोग हिंदी भाषा को समृध्द बनाते हैं. हिंदी वर्णमाला में वर्ण और व्यंजन होते हैं. इस आर्टिकल में हम आपको सयुंक्त व्यंजन के बारे में विस्तार से बताने वाले हैं.

sanyukt-akshar-vyanjan-kise-kahate-hain-sanyukt-vyanjan-udaharan

सयुंक्त व्यंजन किसे कहते हैं – सयुंक्त अक्षर किसे कहते हैं (sanyukt vyanjan kise kahate hain)

सयुंक्त व्यंजन एक प्रकार के व्यंजन हैं. जो दो या दो से अधिक व्यंजनों से मिलकर बने होते हैं. सयुंक्त व्यंजन में पहला वर्ण हमेशा व्यंजन होता हैं. वही दूसरा वर्ण हमेशा स्वर सहित होता हैं.

akshar kise kahate hain – अक्षर किसे कहते हैं

सयुंक्त व्यंजन कितने होते हैं? (sanyukt vyanjan kitne hote hain)

हिंदी भाषा की वर्णमाला में कुल चार संयुक्त व्यंजन मौजूद हैं. यह चार सयुंक्त व्यंजन निम्नलिखित हैं:

क्ष, त्र, ज्ञ और श्र हैं. यह चार सयुंक्त व्यंजन निम्न अनुसार व्यंजनों से मिलकर बने हैं.

क्ष = क् + ष + अ

त्र = त् + र् + अ

ज्ञ = ज् + ञ + अ

श्र = श् + र् + अ

हमारे द्वारा आपके ज्ञान को बढ़ाने के लिए निम्न पुस्तके प्रस्तुत है, पुस्तको की तस्वीर पर क्लिक कर के पुस्तके डिस्काउंट के साथ खरीदे:

 

सयुंक्त व्यंजन के उदाहरण

क्ष = क्षत्रिय, क्षार, कक्षा, भिक्षा, परीक्षा, अक्षर, क्षमा, यक्ष, अध्यक्ष, निरक्षक इत्यादि.

त्र = चित्र, मन्त्र, तंत्र, यंत्र, गोत्र, त्रिशूल, त्रिमाही, षड्यंत्र, एकत्रित, त्रुटी, सर्वत्र, कृत्रिम इत्यादि.

ज्ञ  = ज्ञान, यज्ञ, विज्ञान, जिज्ञासा, विशेषज्ञ, अज्ञान, विज्ञापन, अनभिज्ञ इत्यादि.

श्र = श्रद्दा, श्रदांजलि, श्रवण, श्रीमान, श्रीमती, श्राप, आश्रम, श्रमिक, मिश्रण, श्रृंखला, परिश्रम, विश्राम इत्यादि.

व्याकरण के कितने अंग / भेद / प्रकार होते हैं?

हिंदी भाषा में उपयोग होने वाले अन्य सयुंक्त व्यंजन और सयुंक्त व्यंजन के उदाहरण

  • क्ख = मक्खन, मधुमक्खी, मक्खी
  • क्य = क्यारी, क्योंकि, क्या
  • ख्य = संख्या, ख्याल, ख्याति
  • ग्व = ग्वाला, ग्लानी
  • च्च = कच्ची, सच्ची, बच्चा.
  • ज्ज = लज्जा, इज्जत, सज्जन.
  • ध्य = ध्यान, अध्यापक, अध्यापन, अध्यक्ष.
  • प्प = पप्पू, गोलगप्पा, चप्पू.
  • स्त = रस्ता, सस्ता, मस्त.
  • ब्ब = डिब्बा, धब्बा
  • म्य = सौम्य, म्याऊ, म्यान.
  • च्छ = इच्छा, अच्छा
  • म्म = हिम्मत, चम्मच, मरम्मत.
  • व्य  = व्यय, व्याकरण, व्यापार, व्याख्या, व्यंजन
  • ब्य = ब्याज
  • न्ह = कान्हा
  • न्य = न्यायपालिका, न्यायधिश, कन्या, न्यारी
  • स्व = स्वार्थी, स्वर, स्वाद, स्वपन

Shabd ke kitne bhed hote hain – सम्पूर्ण जानकारी उदाहरण सहित

Punjabi bhasha ki lipi kya hai – सम्पूर्ण जानकारी

निष्कर्ष

इस आर्टिकल को लिखने का हमारा उद्देश्य आपको सयुंक्त व्यंजन और सयुंक्त व्यंजन के उदाहरण के बारे में बताना हैं. दो या दो से अधिक व्यंजन से बने अक्षर को सयुक्त व्यंजन कहा जाता हैं. सयुक्त व्यंजन में सदेव प्रथम वर्ण व्यंजन होता हैं. और दूसरा वर्ण स्वर सहित होता हैं.

आपको यह आर्टिकल कैसा लगा हैं. यह हमे तभी पता चलेगा जब आप हमे निचे कमेंट करके बताएगे. यह आर्टिकल विभिन्न प्रतियोगिता परीक्षाओ की दृष्टी से भी महत्वपूर्ण हैं. इसलिए इस आर्टिकल को उन लोगो और दोस्तों तक पहुचाए जो प्रतियोगिता परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं. क्योंकि ज्ञान बाटने से हमेशा बढ़ता हैं. धन्यवाद.

3 thoughts on “सयुंक्त व्यंजन किसे कहते हैं – सयुंक्त अक्षर किसे कहते हैं”

Leave a Comment

x