सीताजी के माँ का नाम क्या था | माता सीता के जन्म की कहानी

सीताजी के माँ का नाम क्या था | सीताजी के माता का नाम क्या था | sita ji ki maa ka naam kya tha | sita ji ki mata ka kya naam tha | seeta ki maa ka naam – रामायण हिन्दू धर्म का पवित्र ग्रथ हैं. रामायण प्रभु श्री राम के जीवन की कहानी हैं. यह ग्रन्थ प्रभु श्री राम के आदर्श, चरित्र, सत्य और धर्म की व्याख्या करता हैं. यह ग्रन्थ जीवन को सही ठंग से जीने का मार्ग बताता हैं. इस आर्टिकल में हम जानेगे के प्रभु श्री राम की धर्म पत्नी माता सीता के माताजी का नाम क्या था. इस आर्टिकल में हम माता सीता के रामायण में किरदार और भूमिका को भी जानेगे.

sita-ji-seeta-ki-maa-mata-ka-naam-kya-tha-1

रामायण में सीताजी कौन थे?

सीताजी रामायण का प्रमुख किरदार हैं. सीताजी प्रभु श्री राम की धर्म पत्नी हैं. और लव और कुश की माँ हैं. वह राजा जनक की पुत्री हैं. और अयोध्या के राजा दशरथ के घर की बड़ी बहु हैं. सीताजी भारतीय समाज की स्त्री का प्रतिबिम्ब हैं. सीताजी का जन्म बिहार के मिथिला में हुआ था. इसलिए इस स्थान को आज सीतामढ़ी के नाम से जाना जाता हैं.

राजा जनक मिथिला के राजा थे. और उनका वास्तविक नाम सिरध्वज था. उनके पिता का नाम निमि था. और उनके छोटे भाई का नाम कुशध्वज था. त्रेतायुग के समय में मिथिला के राजा जनक अपने अध्यात्मक ज्ञान और तत्वज्ञान के लिए बहुत प्रसिध्द थे. उनके अध्यात्मक ज्ञान और तत्वज्ञान की हर कोई प्रशंसा करता था. कही इतिहासकारों ने राजा जनक को कृषि विशेषज्ञ के रूप में बताया हैं.

श्री रामायण से जुड़े प्रश्न और उत्तर की शृंखला – रामायण की जानकारी

सीताजी को राजा जनक की पुत्री होने के कारन जानकी, जनकसुता और जनकात्मजा भी कहा जाता हैं. मिथिला की राजकुमारी होने के कारन सीताजी को मैथिलि और भूमि से मिलने के कारन भूमि पुत्री या भूसुता भी कहा जाता हैं.

sita-ji-seeta-ki-maa-mata-ka-naam-kya-tha-2

सीताजी के माँ का नाम क्या था | सीताजी के माता का नाम क्या था

सीताजी के माताजी का नाम सुनयना था. सुनयना का नाम ऋषि वाल्मीकि के रामायण में कही नहीं मिलता हैं. लेकिन तुलसीदास से ‘रामचरित्र मानस’ में सुनयना नाम मिलता हैं. सुनयना मिथिला के राजा जनक की धर्मपत्नी और सीता और उर्मिला की माँ थी.

सुग्रीव की पत्नी का नाम क्या था – सुग्रीव और बाली की कहानी

जैन धर्म के ग्रन्थ ‘पौम्यचरित्र’ में सुनयना का नाम ‘विदेह’ मिलता हैं. और ‘वासुदेवहिंदी’ ग्रन्थ में उनका नाम ‘धारिणी’ मिलता हैं. इसी प्रकार बौद्ध धर्म के ‘महाजनक जातक’ में सीताजी के माताजी का नाम शिव्वली बताया गया हैं. महाभारत के ‘शांतिपर्व’ में राजा जनक की पत्नी का नाम कौशल्या बताया गया हैं. और कुछ संस्करण में सुनेत्रा नाम बताया गया हैं.

माता सीता के जन्म की कहानी

रामायण की एक कहानी के अनुसार जब राजा जनक अपने खेतो में हल जोत रहे थे. तो उसी वक्त उनका पैर एक पेटी से टकराया. जब उन्होंने और सुनयना ने पेटी को खोल के देखा था. उस पेटी में महर्षि याज्ञवल्क्य के द्वारा सुनयना के गर्भ में दिव्य आशीष को स्थापित किया गया पाया. सुनयना महर्षि याज्ञवल्क्य के आशीष को स्वीकार करते हुए. मातत्व को स्वीकार किया. और सीताजी का लालन पालन किया.

कृष्ण किस जाति के थे – वासुदेव किस जाति के थे

Bharat ki patni ka naam kya tha – भरत की पत्नी का नाम

चूँकि सीताजी भूमि से प्राप्त हुई थी. इसलिए सीताजी को भूमि पुत्री या भूसुता भी कहा गया हैं. और रामायण के अनुसार सीताजी अंत में धरती में ही समा जाती हैं.

निष्कर्ष

इस आर्टिकल (सीताजी के माँ का नाम क्या था | सीताजी के माता का नाम क्या था ) में हमने जाना हैं की माता सीताजी के माँ का नाम सुनयना था. माता सीता राजा जनक और माता सुनयना को खेतो में हल चलाते वक्त प्राप्त हुई थी. इस आर्टिकल में हमने माता सीता की रामायण में भूमिका को भी जाना हैं. सीताजी एक आदर्श बेटी, पत्नी, बहु और माँ थी. इन्होने महल में रहने के बजाय वन में अपने पति के साथ रहने का निश्चय किया था.

कात्यायनी मंत्र जप संख्या – माँ कात्यायनी मन्त्र – पूजा करने की विधि

श्रवण कुमार के माता पिता का नाम क्या था | श्रवण कुमार की कहानी

आपको यह आर्टिकल (sita ji ki maa ka naam kya tha | sita ji ki mata ka kya naam tha | seeta ki maa ka naam) कैसा लगा हैं. यह हमे तभी पता चलेगा जब आप हमे निचे कमेंट करके बताएगे. यह आर्टिकल विभिन्न प्रतियोगिता परीक्षाओ की दृष्टी से भी महत्वपूर्ण हैं. इसलिए इस आर्टिकल को उन लोगो और दोस्तों तक पहुचाए जो प्रतियोगिता परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं. क्योंकि ज्ञान बाटने से हमेशा बढ़ता हैं. धन्यवाद.

3 thoughts on “सीताजी के माँ का नाम क्या था | माता सीता के जन्म की कहानी”

Leave a Comment

x